खाइये बैंगन और घटाइये बजन- बैगन रखता है आपका बजन घटाने वाले तत्व Brinjal -A weight losing vegetables: - Ayurveda : A Holistic approach to Health, age and Longevity

Breaking

Ayurveda : A Holistic approach to Health, age and Longevity

Ayurveda-A Natural Treatment

Ancient Natural Traditional Science

WWW.AYURVEDLIGHT.COM

Monday, September 19, 2016

खाइये बैंगन और घटाइये बजन- बैगन रखता है आपका बजन घटाने वाले तत्व Brinjal -A weight losing vegetables:

खाइये बैंगन और घटाइये बजन- बैगन रखता है आपका बजन घटाने वाले तत्व 

Brinjal -A weight losing vegetables:

बैगन नाम से बेगुन किन्तु यह अपने आप में अनेकों गुण शामिल किये रहता है।यह अपने ऊपर ताज की सी संरचना लिए रहता है और वास्तव में गुणों में भी यह कहा जा सकता है कि ताज रखने के काविल सब्जी है। बैगन के फायदे अनगिनित हैं वैसे अकबर व बीरवल के किस्से में सदियों से बैंगन के बारे में हम सुनते रहे हैं जवकि किस्से कहानियों को तो छोड़िये  यह लोगों के रंग रुप को व्यक्त करने में काम आता रहा है। आज जब मेैंने बैगन के इस गुण के बारे में जाना तो अपने पाठकों के लिए इस गुण को बताना मैंने आवश्यक समझा और आ गया आपके सामने अपना यह नया लेख लेकर 



ज्यादातर घरों की सब्जी की टोकरी में आलू और टमाटर के साथ सबसे ज्यादा दिखाई देने वाला बैंगन बहुत से लोगों के द्वारा पसन्द किया जाता है लेकिन सभी लोग इसे बैंगन को पसंद नहीं करते।

अगर आप भी उन लोगों में से हैं, जो बैंगन का नाम सुनकर ही नाक- मुंह सि‍कोड़ने लगते हैं, लेकिन वजन घटाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं, तो कृपया इस जानकारी को ध्यान से पढ़िये, एक शोध के अनुसार बैंगन आपके वजन को घटाने में सहायक होता है, साथ ही बीमारियों से बचाता है।


बैगन फाइबर से भरपूर होता है ----


अगर आपका वजन ज्यादा है, और आप उसे कम करने का प्रयास कर रहे हैं, तो आप अपने भोजन में बैंगन को शामिल कर लीजिये यह आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। दरअसल बैंगन में कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है और फाइबर भरपूर होता है, जो वजन कम करने में मदद करता है।

 बैगन कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है----

बैंगन कोलेस्ट्रॉल रहित तो होता ही है, यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है। इसकी कम मात्रा लेने पर भी पेट जल्दी भर जाता है, कैलौरी के मामले में भी बैंगन खास है इसके प्रति सौ ग्राम बैंगन में केवल 25 कैलोरी होती है, इसे खाकर आप ओवर इटिंग से भी बच जाते हैं।

बैगन- सिगरेट बीड़ी की आदत छुड़ाने में मददगार है--

प्राकृतिक तरीके से सिगरेट छोड़ना चाहने वाले लोग अपनी डाइट में बैंगन का सेवन अधिक करके निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरेपी के तहत अपनी बीड़ी या सिगरेट पीने की बुरी आदत को छोड़ने में प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि यह शरीर में मौजूद निकोटिन की सीमित मात्रा करके खून की सफाई कर देता है और आपको तलब नही लगती अतः यह सिगरेट छोड़ने वाले लोगों के लिए मददगार हो सकता है।

बैगन में क्लोरोजेनिक एसिड नामक एंटी आक्सीडेंट होता है---

बैंगन में अत्यधिक मात्रा में क्लोरोजेनिक एसिड होता है, जो कि मजबूत एंटीऑक्सीडेंट एजेंट के रूप में काम करता है। यह आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। इसके अलावा फाइबर, ब्लड कोलेस्ट्रॉल को अवशोषित कर पित्त बनाने में लीवर की मदद करता है। इससे आपके पाचन तंत्र में मौजूद टॉक्सिन्स भी साफ हो जाते हैं, जिससे कोलोन कैंसर का जोखि‍म कम होता है। इसके अलावा बैंगन में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रेडिकल से होने वाले नुकसान से आपको बचाते हैं।

बैगन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक है---

कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होने के कारण बैंगन हार्ट के लिए भी अच्छा होता है, जो धमनियों में कोलेस्ट्रॉल को कम कर रक्त के प्रवाह में सहायक होता है ओर एंटीऑक्सीडेंट भी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके साथ ही यह ब्लड प्रेशर व डायबिटीज में फायदेमंद है, क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट कम और फाइबर की मात्रा अधिक होती है।
<वजन, घटना, बैगन के गुण,कैलौरी,क्लोरोजेनिक एसिड,एंटीऑक्सीडेंट एजेंट,फाइबर, ब्लड कोलेस्ट्रॉल,कार्बोहाइड्रेट>

No comments:

Post a Comment

OUR AIM

ध्यान दें-

हमारा उद्देश्य सम्पूर्ण विश्व में आय़ुर्वेद सम्बंधी ज्ञान को फैलाना है।हम औषधियों व अन्य चिकित्सा पद्धतियों के बारे मे जानकारियां देने में पूर्ण सावधानी वरतते हैं, फिर भी पाठकों को सलाह दी जाती है कि वे किसी भी औषधि या पद्धति का प्रयोग किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में ही करें। सम्पादक या प्रकाशक किसी भी इलाज, पद्धति या लेख के वारे में उत्तरदायी नही हैं।
हम अपने सभी पाठकों से आशा करते हैं कि अगर उनके पास भी आयुर्वेद से जुङी कोई जानकारी है तो आयुर्वेद के प्रकाश को दुनिया के सामने लाने के लिए कम्प्युटर पर वैठें तथा लिख भेजे हमें हमारे पास और यह आपके अपने नाम से ही प्रकाशित किया जाएगा।
जो लेख आपको अच्छा लगे उस पर
कृपया टिप्पणी करना न भूलें आपकी टिप्पणी हमें प्रोत्साहित करने वाली होनी चाहिए।जिससे हम और अच्छा लिख पाऐंगे।