BREAKING NEWS

Fashion

Monday, October 2, 2017

सेक्स पॉवर बढ़ाने का बहुत ही बढ़िया फार्मूला है अश्वगंधा, जानिये इसके गुण व दोष

अश्वगंधा एक अनेक चमत्कारी गुण रखने वाली ऐसी औषधि है जो हजारों वर्षों से आयुर्वैदिक औषधि के रुप उपयोग की जाती रही है। यह आश्चर्यजनक रूप से लाभकारी औषधि है।अश्वगंधा का आयुर्वेद में  इसका बहुत ज्यादा उपयोग किया जाता हैा लैकिन इसका सही मात्रा में उपयोग करना ही फायदेमंद है।इसका एक सीमा तक हीं इसका उपयोग करना चाहिए।
तो आइए जानते हैं कि अश्वगंधा के प्रमुख गुण व दोषों के बारे में 
 अश्वगंधा के फायदे :

  1. अश्वगंधा का सेवन से Sex Power को बढ़ाता है। इसे खाने से वीर्य की गुणवत्ता बढ़ती है और वीर्य ज्यादा मात्रा में बनता है।
  2.  हमेशा आलस्य महसूस करने वाले लोगों के लिए अश्वगंधा बहुत फायदेमंद होता है। इसके सेवन से आलस्य खत्म हो जाता है.
  3.  सम्भोग के दौरान जल्दी थकाबट महसूस करने वाले लोगों के लिए यह एक बहुत हीं प्रभावशाली औषधी है।
  4. अश्वगंधा Anti Aging दवा है, अर्थात यह उम्र को नियंत्रित रखने में आपकी मदद करता है. जिससे व्यक्ति जल्दी बूढ़ा नहीं होता है. अर्थात इसके सेवन करने से समय से पहले बुढ़ापा नहीं आता है।
  5. यह मन को शांत करता है और और सहनशक्ति में वृद्धि करता है.
  6. यह हमारे शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ाता है। यह रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाता है।
  7. अश्वगंधा अनिंद्रा की शिकायत दूर करता है।
  8. अश्वगंधा के सेवन से गठिया का दर्द खत्म हो जाता है।
  9. अश्वगंधा ब्लडप्रेशर को नियन्त्रण में रखता है।
  10.  इसे खाने से तनाव भी कम होता है।
  11. यह डायबीटीज में भी आपको काफी फायदा पहुंचाता है।
  12. अश्वगंधा पाचन तन्त्र के लिए भी बहुत अच्छा होता है।
  13. अश्वगंधा शरीर में आयरन को बढ़ा देता है. हर दिन तीन बार 1-1 gram सेवन करने से शरीर में खून की मात्रा बढ़ जाती है।
  14. इसे खाने से बालों का कालापन बढ़ जाता है.
  15. इससे महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ जाती है.
  16. जिन स्त्रियों की योनी से सफेद चिपचिपा पदार्थ निकलता है, उन्हें भी अश्वगंधा खाने से बहुत फायदा पहुंचाता है।
  17. टीबी में भी अश्वगंधा बहुत फायदा पहुंचाता है।
  18. अश्वगंधा याददाश्त में भी फायदा पहुंचाता है।
अश्वगंधा के कुछ नुकसान
  1. अश्वगंधा के ज्यादा सेवन से ज्यादा नींद आती है.
  2. जिन लोगों को अल्सर की समस्या हो उन्हें खाली पेट में या केवल अश्वगंधा कभी नहीं खाना चाहिए.
  3. किसी बीमारी के समय भी अश्वगंधा का सेवन कर रहें हों, तो यह दूसरे दवाओं के असर को क्षीण कर सकता है.
  4. जिन लोगों को अश्वगंधा खाने से बुखार हो जाता हो, उन्हें अश्वगंधा नहीं खाना चाहिए.
  5. गर्भवती स्त्रियों को अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए.
  6. उन स्त्रियों को भी अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिये, जो अपने बच्चे को स्तनपान करा रही हों.
Note – अश्वगंधा के प्रयोग से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लें, अन्यथा यह आपको नुकसान भी पहुँचा सकता है.

Share this:

Post a Comment

Sample Text

ध्यान दें-

हमारा उद्देश्य सम्पूर्ण विश्व में आय़ुर्वेद सम्बंधी ज्ञान को फैलाना है।हम औषधियों व अन्य चिकित्सा पद्धतियों के बारे मे जानकारियां देने में पूर्ण सावधानी वरतते हैं, फिर भी पाठकों को सलाह दी जाती है कि वे किसी भी औषधि या पद्धति का प्रयोग किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में ही करें। सम्पादक या प्रकाशक किसी भी इलाज, पद्धति या लेख के वारे में उत्तरदायी नही हैं।
हम अपने सभी पाठकों से आशा करते हैं कि अगर उनके पास भी आयुर्वेद से जुङी कोई जानकारी है तो आयुर्वेद के प्रकाश को दुनिया के सामने लाने के लिए कम्प्युटर पर वैठें तथा लिख भेजे हमें हमारे पास और यह आपके अपने नाम से ही प्रकाशित किया जाएगा।
जो लेख आपको अच्छा लगे उस पर
कृपया टिप्पणी करना न भूलें आपकी टिप्पणी हमें प्रोत्साहित करने वाली होनी चाहिए।जिससे हम और अच्छा लिख पाऐंगे।
 
Back To Top
Copyright © 2014 The Light Of Ayurveda. Designed by OddThemes | Distributed By Gooyaabi Templates