BREAKING NEWS

Fashion

Sunday, October 12, 2014

स्वास्थ्य क्या है।



स्वास्थ्य क्या है। इस प्रश्न की खोज करने के लिऐ विश्व की अनेको पैथियों ने अनेक प्रकार से उत्तर प्रदान किया है जैसे विश्व ख्याति प्राप्त ऐलौपैथी इसकी परिभाषा देती है health  means healing from diseases because the word “health” come from the word “heal”  and heal means “to cure”.अर्थात “heal”   का अर्थ है ठीक करना या रोग से मुक्त करना या होना।मतलब जो पदार्थ रोग से मुक्त कर दे उसे हीलर कहा जाता है।और हीलिंग के बाद की स्थिति को हैल्थ कहा जाता है।इसका मतलब यह है कि विश्वख्याति प्राप्त चिकित्सा पद्यति के पास स्वयं स्वास्थ्य के लिए कोई परिभाषा ही नही है वल्कि इसके पास केवल रोगी होने और रोग मुक्ति के बाद की स्थिति के लिए ही परिभाषाऐं हैं।और हमने एसे डाक्टर के हाथ में अपने को दे दिया है जिसे वास्तविक स्वास्थ्य की कोई जानकारी ही नही है वह केवल यह ही जानता है कि रोग क्या है और रोग मुक्त होना क्या है।
लैकिन खुशी की बात यह है कि हम उस देश का प्रतिनिधित्व करते हैं जो स्वास्थ्य की केवल परिभाषा ही नही वल्कि रोगों से शरीर को दूर रखने का तरीका भी जानता है वह जानता है कि क्या करें कैसे रहैं कि रोग हमारे आसपास भी न फटकें।
समदोषःसमाग्निश्च सम धातु मलक्रियः।
प्रश्नात्मेद्रियमनाःस्वस्थ इत्यभिधीयते।। ------ सुश्रुत संहिता सूत्र स्थान
जिस व्यक्ति के शरीर में तीनों दोष (वात,पित्त,कफ) साम्य अवस्था में हों, अग्नि समान हों, सातों धातु समान हों, मल मूत्र विसर्जन की प्रक्रिया समान हो, आत्मा,इन्द्रियाँ,और मन प्रशन्न अवस्था में न हों वही व्यक्ति स्वस्थ है।
स्वास्थ्य की इससे सुन्दर व्याख्या कहीं भी उपलब्ध नही होती। आप सभी जानते हैं जिसे यह ही पता नहो कि स्वस्थ्य शरीर कैसा है उसे क्या पता कि शरीर रोग मुक्त हुआ कि नही।
आयुर्वेद ही वह विज्ञान है जो स्वस्थ्य व रोगी में अन्तर करके निरोगी मनुष्य के लक्षणों के आधार पर यह कह सकता है कि हाँ अब आप पूर्णतया रोग की गिरफ्त से दूर हैं।

Share this:

Post a Comment

Sample Text

ध्यान दें-

हमारा उद्देश्य सम्पूर्ण विश्व में आय़ुर्वेद सम्बंधी ज्ञान को फैलाना है।हम औषधियों व अन्य चिकित्सा पद्धतियों के बारे मे जानकारियां देने में पूर्ण सावधानी वरतते हैं, फिर भी पाठकों को सलाह दी जाती है कि वे किसी भी औषधि या पद्धति का प्रयोग किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में ही करें। सम्पादक या प्रकाशक किसी भी इलाज, पद्धति या लेख के वारे में उत्तरदायी नही हैं।
हम अपने सभी पाठकों से आशा करते हैं कि अगर उनके पास भी आयुर्वेद से जुङी कोई जानकारी है तो आयुर्वेद के प्रकाश को दुनिया के सामने लाने के लिए कम्प्युटर पर वैठें तथा लिख भेजे हमें हमारे पास और यह आपके अपने नाम से ही प्रकाशित किया जाएगा।
जो लेख आपको अच्छा लगे उस पर
कृपया टिप्पणी करना न भूलें आपकी टिप्पणी हमें प्रोत्साहित करने वाली होनी चाहिए।जिससे हम और अच्छा लिख पाऐंगे।
 
Back To Top
Copyright © 2014 The Light Of Ayurveda. Designed by OddThemes | Distributed By Gooyaabi Templates