BREAKING NEWS

Fashion

Wednesday, October 29, 2014

रजोनिवृति के दौरान अनियमितता-------दिनांक 27 अक्टूबर का शेष



जब महिलाओं की उम्र 45 से 50 की होने लगती है उस समय थोड़े समय के लिए एसी स्थिति पैदा हो जाती है कि मासिक चक्र न तो पूरी तरह आता ही है न ही पूर्णतया बन्द ही होता है अपितु अनियमित स्थिति प्रकट हो जाती है इसमें मासिक स्राव या तो पहले से बहुत कम या बहुत ज्यादा हो सकता है कभी कभी बहुत थोड़े समय तक ही स्राव रहता है जवकि कभी कभी कई दिनों तक स्रावित होता है।ऐसे समय में भी डाक्टर की सलाह की महती आवश्यकता होती है।
एनीमिया या खून की कमी के कारण भी कई बार अनियमितता की स्थिति प्रकट हो जाती है।लैकिन उचित आहार व हीमोग्लोविन के स्तर के ठीक होने पर मासिक चक्र पुनः सामान्य हो जाता है।कई बार महिला की मासिक अनियमितता का कारण महिला का किसी रोग से पीडित़ होना भी है। थाईराइड का असंतुलन,सर्वाइकल कैंसर व जननाँग में किसी प्रकार की गाँठ के होने से भी मासिक धर्म की अनियमितता से ग्रस्त होना पड़ सकता है।
मासिक स्राव से संबंधित रोग व समस्याऐं----
मासिक धर्म की पीड़ादायक अवस्था डिसमेनोरिया है जिसमें मासिक के दौरान अत्यन्त पीड़ा होती है जो पहले दिन सबसे ज्यादा फिर शनेः शनेः धीमी होती जाती है। इससे छुटकारा प्राप्त करने के लिए कब्ज न होने दें, प्रतिदिन व्यायाम करें,स्वच्छ हवा में रहैं,।बहुत सी स्त्रियाँ इस समय में दर्द के लिए पेन किलर लेकर अपने रोग पर नियंत्रण करना चाहती हैं किन्तु रोग के बारे में किसी को जानकारी नही देतीं।ऐसे समय में उन्हैं खुद डाक्टर न बनकर किसी योग्य स्त्री ड़ाक्टर से परामर्श करना चाहियें।
महिलाओं में मासिक के अलावा एक सामान्य रोग और है जिसे सफेद पानी या ल्युकोरिया व श्वेत प्रदर कहा जाता है और यह लगभग कम या ज्यादा सभी को यह समस्या रहती ही है किन्तु रोग तब कहा जाता है जब समस्या सामान्य से ज्यादा है और बदबू दार स्राव हो खुजली हो तब स्त्री रोग विशेषज्ञ से जाँच करवाऐं।रोग की उग्रावस्था में पैप स्मीयर जाँच करना जरुरी होता है।इस जाँच में स्त्री के जननांगों से होने वाले स्रावित पानी से कुछ पानी लेकर जाँच की जाती है यह लगभग सभी स्त्री रोग संबंधित हॉस्पीटल में उपलब्ध होता है।इस जाँच से पानी आने का कारण व गर्भाशय के,जरायु के ऊपर के घाव आदि के कारण का पता चल जाता है।
क्रमशः- 30 अक्टूबर को

Share this:

2 comments :

  1. मैं हूँ AMANDA KARIPETRA संयुक्त राज्य अमेरिका में रहते हैं, मैं दाद से पीड़ित हो की है, कई वर्षों से, 7year की अवधि, इलाज के बिना। एक वफादार दिन मैंने देखा एक इंटरनेट पर लेख एक महिला चिकित्सक ise और यह कैसे के बारे में बात कर रहे थे चिकित्सक ने उसे एचआईवी के स्थायी रूप से ठीक हो। मैं उसे अपने ईमेल के माध्यम से संपर्क: ISESPIRITUALSPELLTEMPLE@GMAIL.COM और उसे मेरी बीमारी के बारे में बताया। इस भट्ठी आदमी मेरे दाद संक्रमण रोग ठीक हो। उन्होंने कहा कि मुझे हर्बल दवा है कि मुझे पूरी तरह से चंगा भेजा है। आज मैं `रहने वाले खुशी और दाद से मुक्त। मैं अपने दिमाग पर निष्कर्ष निकालना था कि वहां कोई है इलाज, वह मालिक है और आईएसई हर्ब अनुसंधान केन्द्र के संस्थापक है [IHRC] डॉ .ISE एचआईवी, Zika, एचपीवी, अस्थमा, मधुमेह, उपदंश, कम शुक्राणु के लिए इलाज गिनती, कैंसर, पागलपन, हेपेटाइटिस, बैक्टीरिया और परजीवी के संक्रमण और अन्य संबंधित वायरल संक्रमण। उन्होंने अभ्यास में 15 साल के खर्च के लिए किया था अध्यात्मवाद, सलाहकार, जड़ी बूटियों और आध्यात्मिक साधन का उपयोग कर इलाज करने के लिए पूरी दुनिया में बीमारी। मुख्य कारण है कि मैं इस गवाही लिख रहा हूँ अपने महान कामों के बारे में पूरी दुनिया को सूचित करने के लिए, और वह एक हर्बल डॉक्टर है जो घातक बीमारियों का इलाज कर सकते हैं। उन्होंने यह भी एक महान जादू कॉस्टर मैं नहीं था किसी भी डॉक्टर इस भट्ठी आदमी की तरह इतना शक्तिशाली देखते हैं, वह कई जीवन को बचाने के लिए किया था। तुम उसे के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं; ISESPIRITUALSPELLTEMPLE@GMAIL.COM ...

    ReplyDelete
  2. मैं हूँ AMANDA KARIPETRA संयुक्त राज्य अमेरिका में रहते हैं, मैं दाद से पीड़ित हो की है, कई वर्षों से, 7year की अवधि, इलाज के बिना। एक वफादार दिन मैंने देखा एक इंटरनेट पर लेख एक महिला चिकित्सक ise और यह कैसे के बारे में बात कर रहे थे चिकित्सक ने उसे एचआईवी के स्थायी रूप से ठीक हो। मैं उसे अपने ईमेल के माध्यम से संपर्क: ISESPIRITUALSPELLTEMPLE@GMAIL.COM और उसे मेरी बीमारी के बारे में बताया। इस भट्ठी आदमी मेरे दाद संक्रमण रोग ठीक हो। उन्होंने कहा कि मुझे हर्बल दवा है कि मुझे पूरी तरह से चंगा भेजा है। आज मैं `रहने वाले खुशी और दाद से मुक्त। मैं अपने दिमाग पर निष्कर्ष निकालना था कि वहां कोई है इलाज, वह मालिक है और आईएसई हर्ब अनुसंधान केन्द्र के संस्थापक है [IHRC] डॉ .ISE एचआईवी, Zika, एचपीवी, अस्थमा, मधुमेह, उपदंश, कम शुक्राणु के लिए इलाज गिनती, कैंसर, पागलपन, हेपेटाइटिस, बैक्टीरिया और परजीवी के संक्रमण और अन्य संबंधित वायरल संक्रमण। उन्होंने अभ्यास में 15 साल के खर्च के लिए किया था अध्यात्मवाद, सलाहकार, जड़ी बूटियों और आध्यात्मिक साधन का उपयोग कर इलाज करने के लिए पूरी दुनिया में बीमारी। मुख्य कारण है कि मैं इस गवाही लिख रहा हूँ अपने महान कामों के बारे में पूरी दुनिया को सूचित करने के लिए, और वह एक हर्बल डॉक्टर है जो घातक बीमारियों का इलाज कर सकते हैं। उन्होंने यह भी एक महान जादू कॉस्टर मैं नहीं था किसी भी डॉक्टर इस भट्ठी आदमी की तरह इतना शक्तिशाली देखते हैं, वह कई जीवन को बचाने के लिए किया था। तुम उसे के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं; ISESPIRITUALSPELLTEMPLE@GMAIL.COM ...

    ReplyDelete

Sample Text

ध्यान दें-

हमारा उद्देश्य सम्पूर्ण विश्व में आय़ुर्वेद सम्बंधी ज्ञान को फैलाना है।हम औषधियों व अन्य चिकित्सा पद्धतियों के बारे मे जानकारियां देने में पूर्ण सावधानी वरतते हैं, फिर भी पाठकों को सलाह दी जाती है कि वे किसी भी औषधि या पद्धति का प्रयोग किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में ही करें। सम्पादक या प्रकाशक किसी भी इलाज, पद्धति या लेख के वारे में उत्तरदायी नही हैं।
हम अपने सभी पाठकों से आशा करते हैं कि अगर उनके पास भी आयुर्वेद से जुङी कोई जानकारी है तो आयुर्वेद के प्रकाश को दुनिया के सामने लाने के लिए कम्प्युटर पर वैठें तथा लिख भेजे हमें हमारे पास और यह आपके अपने नाम से ही प्रकाशित किया जाएगा।
जो लेख आपको अच्छा लगे उस पर
कृपया टिप्पणी करना न भूलें आपकी टिप्पणी हमें प्रोत्साहित करने वाली होनी चाहिए।जिससे हम और अच्छा लिख पाऐंगे।
 
Back To Top
Copyright © 2014 The Light Of Ayurveda. Designed by OddThemes | Distributed By Gooyaabi Templates